fbpx

भारतीय संविदा अधिनियम की धारा 49 | Indian Contract Act Section 49

 भारतीय संविदा अधिनियम Indian Contract Act (ICA Section-49) in Hindi के विषय में पूर्ण जानकारी देंगे। भारतीय संविदा अधिनियम की धारा 49 के अनुसार जबकि किसी वचन का पालन वचनग्रहीता के आवेदन के बिना किया जाना हो और उसके पालन के लिए कोई स्थान नियत न हो तब वचनदाता का कर्तव्य है कि वह वचन के पालन के लिए युक्तियुक्त स्थान नियत करने के लिए वचनग्रहीता से आवेदन करे और ऐसे स्थान में उसका पालन करे, जिसे IC Act Section-49 के अन्तर्गत परिभाषित किया गया है।

भारतीय संविदा अधिनियम की धारा 49 (Indian Contract Act Section-49) का विवरण

भारतीय संविदा अधिनियम की धारा 49 IC Act Section-49 के अनुसार जबकि किसी वचन का पालन वचनग्रहीता के आवेदन के बिना किया जाना हो और उसके पालन के लिए कोई स्थान नियत न हो तब वचनदाता का कर्तव्य है कि वह वचन के पालन के लिए युक्तियुक्त स्थान नियत करने के लिए वचनग्रहीता से आवेदन करे और ऐसे स्थान में उसका पालन करे।

भारतीय संविदा अधिनियम की धारा 49 (IC Act Section-49 in Hindi)

वचन के पालन के लिए स्थान, जहाँ कि पालन के लिए, आवेदन न किया जाना हो और कोई स्थान नियत न हो-

जबकि किसी वचन का पालन वचनग्रहीता के आवेदन के बिना किया जाना हो और उसके पालन के लिए कोई स्थान नियत न हो तब वचनदाता का कर्तव्य है कि वह वचन के पालन के लिए युक्तियुक्त स्थान नियत करने के लिए वचनग्रहीता से आवेदन करे और ऐसे स्थान में उसका पालन करे। |
दृष्टान्त
‘क’ एक हजार मन पटसन ‘ख’ को एक नियत दिन परिदत्त करने का वचन देता है। ‘क’ को ‘ख’ से आवेदन करना होगा कि वह उसे लेने के लिए युक्तियुक्त स्थान नियत करे और ‘क’ को ऐसे स्थान पर पटसन परिदत्त करना होगा।

Indian Contract Act Section-49 (IC Act Section-49 in English)

Place for the performance of promise, where no application to be made and no place fixed for performance-

When a promise is to be performed without application by the promisee, and no place is fixed for the performance of it, it is the duty of the promisor to apply to the promisee to appoint a reasonable place for the performance of the promise, and to perform it at such a place.
Illustration
A undertakes to deliver a thousand maunds of jute to B on a fixed day. A must apply to B to appoint a reasonable place for the purpose of receiving it, and must deliver it to him at such place.

हमारा प्रयास भारतीय संविदा अधिनियम (Indian Contract Act Section) की धारा 49 की पूर्ण जानकारी, आप तक प्रदान करने का है, उम्मीद है कि उपरोक्त लेख से आपको संतुष्ट जानकारी प्राप्त हुई होगी, फिर भी अगर आपके मन में कोई सवाल हो, तो आप कॉमेंट बॉक्स में कॉमेंट करके पूछ सकते है।

Leave a Comment