fbpx

सीआरपीसी की धारा 483 | न्यायिक मजिस्ट्रेटों के न्यायालयों पर अधीक्षण का निरंतर प्रयोग करने का उच्च न्यायालय का कर्तव्य | CrPC Section- 483 in hindi| Duty of High Court to exercise continuous superintendence over Courts of Judicial Magistrates.

CrPC Section- 483

नमस्कार दोस्तों, आज हम आपके लिए दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 483 के बारे में पूर्ण जानकारी देंगे। क्या कहती …

Read more

सीआरपीसी की धारा 482 | उच्च न्यायालय की अन्तर्निहित शक्तियों की व्यावृत्ति | CrPC Section- 482 in hindi| Saving of inherent powers of High Court.

CrPC Section- 482

नमस्कार दोस्तों, आज हम आपके लिए दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 482 के बारे में पूर्ण जानकारी देंगे। क्या कहती …

Read more

सीआरपीसी की धारा 481 | विक्रय से संबद्ध लोक सेवक का सम्पत्ति का क्रय न करना और उसके लिए बोली न लगाना | CrPC Section- 481 in hindi| Public servant concerned in sale not to purchase or bid for property.

नमस्कार दोस्तों, आज हम आपके लिए दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 481 के बारे में पूर्ण जानकारी देंगे। क्या कहती …

Read more

सीआरपीसी की धारा 480 | विधि-व्यवसाय करने वाले प्लीडर का कुछ न्यायालयों में मजिस्ट्रेट के तौर पर न बैठना | CrPC Section- 480 in hindi| Practising pleader not to sit as Magistrate in certain Courts.

CrPC Section- 480

नमस्कार दोस्तों, आज हम आपके लिए दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 480 के बारे में पूर्ण जानकारी देंगे। क्या कहती …

Read more

सीआरपीसी की धारा 479 | वह मामला जिसमें न्यायाधीश या मजिस्ट्रेट वैयक्तिक रूप से हितबद्ध है | CrPC Section- 479 in hindi| Case in which Judge or Magistrate is personally interested.

CrPC Section- 479

नमस्कार दोस्तों, आज हम आपके लिए दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 479 के बारे में पूर्ण जानकारी देंगे। क्या कहती …

Read more

सीआरपीसी की धारा 478 | कुछ दशाओं में कार्यपालक मजिस्ट्रेटों को सौंपे गये कृत्यों को परिवर्तित करने की शक्ति | CrPC Section- 478 in hindi| Power to alter functions allocated to Executive Magistrates in certain cases.

नमस्कार दोस्तों, आज हम आपके लिए दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 478 के बारे में पूर्ण जानकारी देंगे। क्या कहती …

Read more