fbpx

किशोर न्याय अधिनियम की धारा 85 | Juvenile Justice Act Section 85

किशोर न्याय अधिनियम JJ Act (Juvenile Justice Act Section-85) in Hindi के विषय में पूर्ण जानकारी देंगे। किशोर न्याय अधिनियम की धारा 85 के अनुसार जो कोई व्यक्ति किसी बालक का जो कि निशक्त है अर्थात् चिकित्सक रूप मे कमजोर या मंदबुद्धि है ऐसे बालको पर अपराध करता है, तो इस अध्याय में निर्दिष्ट अपराधों में से किसी अपराध को बालक पर करता है, तो ऐसा व्यक्ति ऐसे अपराध के लिए उपबंधित दोहरी शास्ति का दायी होगा, जिसे JJ Act Section-85 के अन्तर्गत परिभाषित किया गया है।

किशोर न्याय अधिनियम की धारा 85 (Juvenile Justice Act Section-85) का विवरण

किशोर न्याय अधिनियम की धारा 85 JJ Act Section-85 के तहत किशोर न्याय बोर्ड (जेजेबी) जो कोई व्यक्ति किसी बालक का जो कि निशक्त है अर्थात् चिकित्सक रूप मे कमजोर या मंदबुद्धि है ऐसे बालको पर अपराध करता है, तो इस अध्याय में निर्दिष्ट अपराधों में से किसी अपराध को बालक पर करता है, तो ऐसा व्यक्ति ऐसे अपराध के लिए उपबंधित दोहरी शास्ति का दायी होगा।

किशोर न्याय अधिनियम की धारा 85 (JJ Act Section-85 in Hindi)

निःशक्त बालकों पर किए गए अपराध-

जो कोई इस अध्याय में निर्दिष्ट अपराधों में से किसी अपराध को, किसी ऐसे बालक पर कारित करता है, जिसे किसी चिकित्सा व्यवसायी द्वारा इस प्रकार निःशक्त रूप में प्रमाणित किया गया है, वहां ऐसा व्यक्ति ऐसे अपराध के लिए उपबंधित दोहरी शास्ति का दायी होगा ।
स्पष्टीकरण- इस अधिनियम के प्रयोजन के लिए, “निःशक्तता” पद का वही अर्थ होगा जो निःशक्त व्यक्ति (समान अवसर, अधिकार संरक्षण और पूर्ण भागीदारी) अधिनियम, 1995 (1996 का 1 ) की धारा 2 के खंड (झ) में उसका है ।

Juvenile Justice Act Section-85 (JJ Act Section-85 in English)

Offences committed on disabled children-

Whoever commits any of the offences referred to in this Chapter on any child who is disabled as so certified by a medical practitioner, then, such person shall be liable to twice the penalty provided for such offence.
Explanation.—For the purposes of this Act, the term disability shall have the same meaning as assigned to it under clause (i) of section 2 of the Persons with Disabilities (Equal Opportunities, Protection of Rights and Full Participation) Act, 1995 (1 of 1996).

हमारा प्रयास किशोर न्याय अधिनियम (Juvenile Justice Act Section) की धारा 85 की पूर्ण जानकारी, आप तक प्रदान करने का है, उम्मीद है कि उपरोक्त लेख से आपको संतुष्ट जानकारी प्राप्त हुई होगी, फिर भी अगर आपके मन में कोई सवाल हो, तो आप कॉमेंट बॉक्स में कॉमेंट करके पूछ सकते है।

Leave a Comment