fbpx

मोटर वाहन अधिनियम की धारा 164D | राज्य सरकार की नियम बनाने की शक्ति | MV Act, Section- 164D in hindi | Power of State Government to make rules.

नमस्कार दोस्तों, आज हम आपके लिए मोटर वाहन अधिनियम की धारा 164D के बारे में पूर्ण जानकारी देंगे। क्या कहती है मोटर वाहन अधिनियम की धारा- 164D, साथ ही इस धारा के अंतर्गत क्या परिभाषित किया गया है, यह सभी जानकारी इस लेख के माध्यम से आप तक पहुंचाने का प्रयास करेंगे।

मोटर वाहन अधिनियम की धारा- 164D का विवरण

मोटर वाहन अधिनियम (Motor Vehicles Act) की धारा -164D के विषय में पूर्ण जानकारी देंगे। राज्य सरकार इस अध्याय के उपबंधों को प्रभावी करने के प्रयोजनों के लिए नियम बना सकेगी।

मोटर वाहन अधिनियम की धारा- 164D के अनुसार

राज्य सरकार की नियम बनाने की शक्ति-

(1) राज्य सरकार, धारा 164ग में विनिर्दिष्ट विषयों से भिन्न इस अध्याय के उपबंधों को क्रियान्वित करने के प्रयोजन के लिए नियम बना सकेगी।
(2) पूर्वगामी शक्ति की व्यापकता पर प्रतिकूल प्रभाव डाले बिना, ऐसे नियम निम्नलिखित के लिए उपबंध कर सकेंगे,–
(क) धारा 147 की उपधारा (5) के अधीन अन्य प्राधिकारी; और
(ख) कोई अन्य विषय, जो विहित किया जाना है या विहित किया जाए या जिसके संबंध में नियमों द्वारा उपबंध बनाए जाने हैं।

Power of State Government to make rules-
(1) The State Government may make rules for the purposes of carrying into effect, the provisions of this Chapter other than the matters specified in section 164C.
(2) Without prejudice to the generality of the foregoing power, such rules may provide for–
(a) the other authority under sub-section (5) of section 147; and
(b) any other matter which is to be, or may be, prescribed, or in 25 respect of which provision is to be made by rules.

हमारा प्रयास मोटर वाहन अधिनियम (MV Act) की धारा 164D की पूर्ण जानकारी, आप तक प्रदान करने का है, उम्मीद है कि उपरोक्त लेख से आपको संतुष्ट जानकारी प्राप्त हुई होगी, फिर भी अगर आपके मन में कोई सवाल हो, तो आप कॉमेंट बॉक्स में कॉमेंट करके पूछ सकते है।

Leave a Comment